राम आए साथ में भारतीय शेयर मार्केट को – पांचवें से चौथे नंबर पर लाए हैं।

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण से न केवल अयोध्या नगरी में काफी सारा डेवलपमेंट हुआ है बल्कि भारत देश में भी बहुत सारा विकास देखने को दिनों दिन मिलता जाएगा। राम मंदिर निर्माण से केवल राम भक्तों को ही नहीं बल्कि पूरे देशवासियों को कोरोना के बाद एक उत्थान करने का सुनहरा मौका मिला है। सभी लोग बड़ी शान से आज अयोध्या जाते हैं राम जी के दर्शन करते हैं उनकी जन्मभूमि की माटी को अपने मस्तक पर एक सकारात्मक शौर्य के रूप में लगाते हैं। बात करें डेवलपमेंट की तो निरंतर भारत डेवलपमेंट की सीढ़ी चढ़ना ही जा रहा है। आज हम बात शेयर मार्केट की करें तो भारतीय शेयर मार्केट में चेंज देखने को मिला है जिसको जानकर यूजर के होश उड़ जाएंगे। यह चर्चा भारत में ही नहीं विश्व में भी अचंभित करने वाली है। जल्द से जल्द इसको जानते हैं कि आखिर राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा ने भारतीय शेयर मार्केट पर क्या असर छोड़ा है।

Advertisement

 

राम आए साथ में भारतीय शेयर मार्केट को – पांचवें से चौथे नंबर पर लाए हैं।

यह बात 22 जनवरी 2024 सोमवार के दिन राम मंदिर पर प्रतिष्ठा की है जब मंदिर में एक तरफ प्राण प्रतिष्ठा चल रही थी तो तब दूसरी तरफ भारत उन्नति के मार्ग पर ऊपर बढ़ा। मतलब की प्राण प्रतिष्ठा के दिन प्रभु की इतनी कृपा की भारत शेयर मार्केट में पांचवें नंबर को छोड़कर चौथे नंबर पर आगे बढ़ गया। पूरे विश्व की बात करें तो आज वर्तमान में भारत का शेयर मार्केट कैप 4.33 ट्रिलियन डॉलर हो चुका है। अर्थात मार्केट कैप जिसकी रुपए में बात करें तो करीब 359 लाख करोड रुपए। हांगकांग को पीछे छोड़कर भारत चौथे नंबर पर आ चुका है। अब से हांगकांग पांचवें नंबर पर, फ्रांस छः और यूनाइटेड किंगडम सातवें नंबर पर है। यहां पूरा एक इंटरनेशनल आंकड़ा है जो 22 तारीख प्राण प्रतिष्ठा के दिन परिवर्तित हुआ है। यहां शेयर मार्केट यूजर के लिए खुशी का मौका है। दोस्तों यहां एक प्रश्न उठता है की प्राण प्रतिष्ठा के दिन ऐसा क्या हुआ जो शेयर मार्केट वह भी इंटरनेशनल लेवल पर चौथे नंबर पर आया तो इसका कारण क्या है क्या वजह है चलिए आगे जानते हैं।

राम आए साथ में भारतीय शेयर मार्केट को - पांचवें से चौथे नंबर पर लाए हैं।

राम मंदिर के निर्माण के दिन ही शेयर मार्केट में बढ़ोतरी क्यों हुई?

राम मंदिर के निर्माण के दिन इंटरनेशनल आंकड़े के हिसाब से भारत चौथे नंबर पर हांगकांग को छोड़कर आ चुका है। मतलब हांगकांग को भारत ने ओवरटेक कर दिया है इसका सारा श्रेय 22 जनवरी यानी की राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा को जाता है क्योंकि बीते हुए दोनों ऐसा कुछ अद्भुत देखने को नहीं मिला। भारत ने हांगकांग को पीछे छोड़ा ऐसा केवल 22 जनवरी को ही हुआ है। अब प्रेजेंट टाइम में हांगकांग की मार्केट कैप डॉलर में 4.29 ट्रिलियन हो चुकी है मतलब 359 लाख करोड रुपए में। यह एक सकारात्मक मौका है जो भारत को और भी अधिक उन्नत बनाने की ओर अग्रसर करता है। वही बात हम 21 जनवरी रविवार की करें तो उस दिन कुछ भी खास नहीं हुआ। उस दिन भारत पांचवें नंबर पर ही अटका हुआ था। पर जैसे ही सोमवार की सुबह हुई प्रभु राम की कृपा से भारत ने इंटरनेशनल आंकड़े के हिसाब से शेयर मार्केट कैप में चौथे नंबर पर बढ़त की‌।

Advertisement

Leave a Comment