CPU क्या है? इसके भाग और प्रकार बताइये?

दोस्तों आज का विषय बहुत ही खास है‌ एवं आपके लिए बहुत ही उपयोगी हो सकता है। गुजरते वक्त के साथ निरंतर बहुत सारी सुविधाएं बढ़ती जा रही है। आज का समय और जनरेशन में निरंतर परिवर्तन हो रहा है। पहले के वक्त में टेक्नोलॉजी ज्यादा नहीं थी परंतु आज हम सुबह से लेकर शाम तक टेक्नोलॉजी से ही अपने कार्य को पूर्ण कर पाते हैं। फिलहाल अभी के समय में कंप्यूटर का लगभग सभी यूज करते होंगे तो आज हम उन सभी यूजर्स को CPU कि महत्वता बताने वाले हैं की आखिर CPU क्या है, इसके लाभ इन सभी जानकारी को इस आर्टिकल की मदद से जानने की कोशिश करेंगे। तो चलिए दोस्तों बिना देर करें जानते हैं-

 

CPU क्या है?

CPU जिसका फुल फॉर्म “Central Processing Unit” होता है इसको ही कंप्यूटर का प्रोसेसर माना जाता है। यहां कंप्यूटर का बहुत ही इंपॉर्टेंट पार्ट होता है। इसको एक तरह से कंप्यूटर का माइंड कह सकते हैं चूंकि यह सभी परमिशन को सही तरीके से प्रोसेस करता है और फिर आउटपुट रूप में रिजल्ट को मॉनिटर पर ऑपरेट करता है। मनुष्य के शरीर में जैसे मस्तिष्क अहम् होता है ठीक उसी प्रकार कंप्यूटर के लिए प्रोसेसर रूप में CPU बहुत अहम होता है। इसके बिना तो कंप्यूटर खाली डिब्बा बन जाएगा। इसके कार्य जैसे- डाटा को प्रोसेस कराना, ग्राफिक्स दिखाना व इंटरनेट जैसे प्लेटफार्म पर संचार स्थापित करना इत्यादि कार्य जिनको सीपीयू द्वारा ही संभव बनाया जा सकता है। CPU को कई प्रकार के नाम से भी जाना जाता है। जैसे- processor, central processor, एवं microprocessor.

आसान शब्दों में कहे तो- CPU वहां कंप्यूटर का छोटा भाग होता है जो पूर्णतः कंप्यूटर का माइंड कहलाता है इसके द्वारा सभी तरह की गतिविधियों को कंट्रोल कर सकते हैं। जब कभी भी यूजर्स द्वारा कंप्यूटर को कोई भी इनपुट प्रोवाइड करते हैं तो सर्वप्रथम सीपीयू के पास इनपुट प्रोसेस करता है और उसके बाद सीपीयू उस इनपुट को समझता है और फिर आगे की प्रोसेस करके सही तरह की आउटपुट प्रदान करता है। डाटा को प्रोसेस करने के लिए यहां कई तरह की एल्गोरिथम एवं कुछ मेथड को यूज करता है। सभी तरह के हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर, यूजर्स ओर साथ ही इनपुट डिवाइस द्वारा रिसीव डाटा एवं निर्देशों को हैंडल तथा प्रोसेस करके रिजल्ट प्रोवाइड करता है। यहां खास रूप से कंप्यूटर पार्ट्स के मदरबोर्ड में लगा हुआ होता है। सीपीयू फैन के नीचे देखने को मिलता है। इसके अंदर कुछ इंपॉर्टेंट पार्ट्स जैसे- ALU, Cache Memory, Registers तथा FPU इसके अंदर लगे हुए होते हैं जिनके बारे में हम आगे चर्चा करेंगे।

 

CPU के भाग कितने होते हैं?

सीपीयू के भाग तीन रूपों में होते हैं जिनको ALU, Memory Unit, Control Unit इनके बारे में और भी अधिक जानकारी नीचे विस्तार से जानते हैं-

• ALU (Arithmetic Logical Unit)-

इसको कंप्यूटर का बहुत ही इंर्पोटेंट पार्ट्स माना जाता है। यहां कंप्यूटर में गणितीय व लॉजिकल जैसे की जोड़, घटाना, गुणा, भाग तथा तुलना करना, मिलाना इत्यादि कार्य की संपूर्ण जिम्मेदारी ALU की होती है। यहां सीपीयू को पावरफुल बनाने के लिए डिजाइन होता है परन्तु गर्मी पैदा करने का कारण भी ALU होता है।

• Memory Unit-

मेमोरी यूनिट जिसको कंप्यूटर का ही स्टोरेज यूनिट कहा जाता है। मेमोरी जिसमें डाटा इकट्ठा होता है। सीपीयू प्रत्येक बार अलग-अलग मेमोरी का इस्तेमाल करता है जैसे की Unprocessed डाटा को प्राथमिक मेमोरी यानी की RAM में रखा जाता है तो वही Process वाले डाटा को द्वितीयक मेमोरी यानी की ROM में रखा जाता है।Memory Unit यहां दो चीजों से डेवलप होता है पहली Registers और दूसरी Memory Locations.

• Control Unit-

कंट्रोल यूनिट का कार्य विशेष रूप से कंप्यूटर के सभी वर्क को नियंत्रित करना है। इसी वजह से इसको कंट्रोल यूनिट नाम दिया गया है। इसको सिंपल भाषा में सीपीयू का मैनेजर कह सकते हैं क्योंकि यहां यूजर्स के माध्यम से दिए गए डाटा एवं निर्देश को पूर्णता नियंत्रित करने में जुटा रहता है। इसका वर्क केवल निर्देश को पढ़ना, एक्सप्लेन करना, कंट्रोल करना यही कार्य कंट्रोल यूनिट सीपीयू के साथ ‘निर्देशक’ बनकर करता है।

CPU के प्रकार बताइये?

सीपीयू के प्रकार निम्नलिखित दर्शाए गए हैं-

1. Single Core-

सिंगल कोर जिसमें सिर्फ एक वक्त में केवल एक प्रकार के कार्य करने की ताकत होती है। आप एक वक्त में अगर कई सारे प्रोग्राम अथवा एप्लीकेशन को स्टार्ट करते हैं तो आपका सिस्टम पूर्ण रूप से स्लो स्पीड मैं वर्क करेगा क्योंकि सिंगल कोर सीपीयू के पास एक समय में केवल एक ही वर्क पर ध्यान देने की कैपेसिटी है। ज्यादा वर्क पर ध्यान देने से सिंगल कोर का परफॉर्म तुरंत ही घट जाता है।

2. Dual Core-

दो कोर वाले सीपीयू को ड्यूल कोर सीपीयू कहा जाता है। सिंगल कोर सीपीयू की तुलना में डबल कोर सीपीयू बड़ा ही बेहतरीन परफॉर्म करता है क्योंकि इसमें विशेष डबल कोर होते हैं। डबल कोर सीपीयू कई समय तक प्रोग्राम अथवा एप्लीकेशन को चलाने की ताकत रखता है।

3. Hexa Core-

इसमें 6 कोर होते हैं जिस वजह से इसको Hexa Core सीपीयू कहते हैं। इसी कारण यहां बहुत ही तेज परफॉर्म को दर्शाता है और इसके कार्य करने की स्पीड भी बहुत फास्ट होती है। Intel i5 तथा Intel i7 टाइप के प्रोसेसर इस हेक्सा कोर सीपीयू की कैटेगरी में ही शामिल होते है।

4. Octa Core-

जिस सीपीयू में आठ कोर पाए जाते हैं उसी को ही ऑक्टा कोर सीपीयू कहते हैं। इस तरह के सीपीयू में कोई भी यूजर गेमिंग का बड़ा आनंद ले सकता है क्योंकि इसमें 8 कोर मौजूद होते हैं और इसकी परफॉर्म बहुत ही शानदार होती है।

5. Deca Core-

इसमें 10 कोर जो की इंडिपेंडेंस रूप में अवेलेबल होते हैं वैसे इसका इस्तेमाल 10th जनरेशन जैसे कंप्यूटर में होता है। अभी जो समय चल रहा है उसे समय में कुछ स्मार्टफोन में भी डेका कोर सीपीयू का ही यूज़ होता है इसकी भी परफॉर्म बहुत ही फास्ट होती है।

 

CPU Clock Speed क्या होती हैं?

सीपीयू क्लॉक स्पीड उसको कहा जाता है जब एक प्रोसेसर के माध्यम से एक सेकंड में कितने number of instructions प्रोसेस हो सके। मतलब की एक उदाहरण की सहायता से समझते हैं जैसे मान लीजिए आपके सीपीयू की क्लॉक स्पीड 1 Hz है तब इस सिचुएशन में उसमें एक सेकंड में केवल एक ही instructions प्रोसेस कर सकता है। कई सीपीयू की क्लॉक स्पीड जैसे 3.0 GHz होती है तो इसका मतलब की इसमें तीन बिलियन instructions आराम से प्रोसेस कर सकते हैं।

➤ यहां भी जाने- Google Chat क्या है? इसका इस्तेमाल, विशेषताएं, अकाउंट कैसे बनाए और ये सुरक्षित है या नहीं?

UPS क्या है? इसके लाभ क्या-क्या हैं? in Hindi

 

हमने क्या सीखा ?

आज हमने इस लेख में सीखा कि CPU क्या है? आशा करता हूं कि यह लेख आपके लिए उपयोगी साबित हुआ है। यदि आपके मन में अगर अभी भी कोई भी CPU से रिलेटेड कोई सा भी प्रश्न है तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके निसंकोच पूछ सकते हैं तथा इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें।
“Thanks”

 

CPU से संबंधित कुछ FAQ-

Q.1 CPU का अर्थ क्या होता है?
Ans. CPU जिसका फुल फॉर्म “Central Processing Unit” होता है इसको ही कंप्यूटर का प्रोसेसर माना जाता है। यहां कंप्यूटर का बहुत ही इंर्पोटेंट पार्ट होता है। इसको एक तरह से कंप्यूटर का माइंड कह सकते हैं चूंकि यही सभी परमिशन को सही तरीके से प्रोसेस करता है और फिर आउटपुट रूप में रिजल्ट को मॉनिटर पर ऑपरेट करता है। मनुष्य के शरीर में जैसे मस्तिष्क अहम् होता है ठीक उसी प्रकार कंप्यूटर के लिए प्रोसेसर रूप में CPU बहुत अहम होता है।

Q.2 सीपीयू कितने प्रकार के होते हैं?
Ans. सीपीयू के प्रकार निम्नलिखित दर्शाए गए हैं।
• Single Core
• Dual Core
• Hexa Core
• Octa Core
• Deca Core

Q.3 CPU कहाँ स्थित है?
Ans. यहां खास रूप से कंप्यूटर पार्ट्स के मदरबोर्ड में लगा हुआ होता है। सीपीयू फैन के नीचे देखने को मिलता है।

 

Leave a Comment