PayPal क्या है? इसके अकाउंट के प्रकार, अकाउंट कैसे बनाये, अकाउंट वेरीफाई कैसे करे, Paypal.Me लिंक कैसे बनाएं और फायदे, नुकसान बताये।

हेलो फ्रेंड्स आज का विषय बहुत रोचक है। जिसमें हम PayPal के बारे में बात करेंगे। आज ऐसे ऐसे सिस्टम्स चल चुके हैं। जिनके बारे में बहुत लोगों को ज्ञात नहीं हैं। वर्तमान समय में बहुत सारी नई नई चीजों का चलन हो चुका है। पुराने समय पर नजर डालें तो उस समय में ऐसी चीजें मौजूद नहीं थी और उस समय इंटरनेट कोई भी ज्यादा Use नहीं करता था। परंतु कहते हैं ना कि बदलाव बहुत जरूरी है। बदलाव ही हमें नई नई चीजें सिखाता है। ऐसा ही आज का एक विषय है जिसमें हम PayPal क्या है की संपूर्ण जानकारियां विस्तार से जानेंगे।

Advertisement

आइए दोस्तों बिना समय गंवाए सरल शब्दों में जानने की कोशिश करते हैं-

 

PayPal क्या है?

PayPal एक ऐसी पॉपुलर अमेरिकन कंपनी है जो कि पूरे विश्व भर में एक ऑनलाइन पेटीएम सर्विस प्रोवाइड करती है। इसके द्वारा होता क्या है कि जो भी एक नॉर्मल या बिजनेसमैन को इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से फंड ट्रांसफर तथा रिसीव करने की सर्विस देता है। यहां बहुत ही सुरक्षित तरीका है खासकर व्यापारियों के लिए व्यापारी पूरे विश्व में किसी भी जगह पैसे को आराम से ट्रांजेक्शन कर सकते हैं। अभी के समय में यहां एक भरोसेमंद ऑनलाइन पेमेंट सिस्टम बन चुकी। कोई यूजर डिजिटल मार्केटिंग, ब्लॉगिंग जैसे फील्ड में होता है तो उसमें भी इसका यूज महत्वपूर्ण होता है। मतलब डिजिटल चीजें जैसे- Hosting, Domain, Themes, Plugin इत्यादि को परचेस करने में PayPal बहुत ही यूजफुल है। दूसरी किसी भी कंट्री का पेमेंट अगर रिसीव करना है तो PayPal एक अच्छा विकल्प है इसमें वह सभी विशेषताएं हैं जो यूजर को चाहिए होती है। आप किसी भी कंट्री की करेंसी को आसानी से ले सकते हैं और फिर उसको रुपए में परिवर्तित करके अपने बैंक अकाउंट में ट्रांसफर भी कर सकते हैं।

 

PayPal अकाउंट के प्रकार कौन-कौन से हैं?

PayPal अकाउंट के दो टाइप होते हैं पहला Personal Account और दूसरा Business Account है। इनके बारे में हम नीचे विस्तार से इनफॉरमेशन प्राप्त करते हैं।

1. Personal Account-

पर्सनल अकाउंट को पर्सनल कार्यों के लिए ही बनाया जाता है। पर इसमें केवल आपको 5 credit card या फिर debit card add करने की ही लिमिट दी जाती है। इसमें मंथली ट्रांजैक्शन की लिमिट भी सेट होती है। जिसके अनुसार आप महीने में केवल सीमित ट्रांजैक्शन कर सकते हैं उससे ज्यादा नामुमकिन-सा है। आपको ट्रांजैक्शन पर ट्रांजैक्शन फीस भी चुकानी पड़ती है।

2. Business Account-

बिजनेस अकाउंट को बिजनेस जैसे कार्यों में खासतौर पर यूज किया जाता है। इसमें यूजर को हाय वॉल्यूम ट्रांजैक्शन की सर्विस मिलती है। यहां Business Owner, Freelancers, या International Sellers है उनको भारत देश या कोई अन्य देश से पेमेंट को रिसीव अथवा सेंड करने की जरूरत है तो उनके लिए यह एक बहुत ही बेहतर विकल्प हैं किंतु इसमें कुछ मेंटेनेंस फीस चार्ज देना पड़ता है।

 

PayPal अकाउंट कैसे बनाते हैं?

PayPal अकाउंट बनाने के लिए नीचे कुछ स्टेप्स दी गई है जिनका ध्यान पूर्वक फॉलो करें। आइए विस्तार से जानते हैं-

Step.1 दोस्तों सर्वप्रथम आपको PayPal अकाउंट बनाने के लिए ऑफिशल वेबसाइट paypal.com पर जाना होगा। जब एक बार वेबसाइट पर विजिट कर जाएंगे तब आपको साइन अप पर क्लिक करना है। फिर आपको चुनाव करना है personal account का इसके बाद Continue बटन पर क्लिक कर दीजिए।

Step.2 अब आपको कुछ जानकारी को दर्ज करना है जैसे- Country select, Email address fill, strong Password fill ये जानकारियां दर्ज करने के बाद आपको एक बार फिर से Password fill करना है। फिर कैप्चा कोड सही भरकर Continue बटन पर क्लिक कर दीजिए।

Step.3 Continue बटन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक न्यू पेज ओपन होगा जिसमें आपको अपनी कुछ पर्सनल जानकारियां जैसे- name, date of birth, country name select, address, state, city, pin code, mobile number etc. इनको दर्ज करने के बाद अंत में Agreed policy पर tick कर दीजिए तथा Agree and Continue पर टैप कर दीजिए।

Step.4 इसके पश्चात आपको चार विकल्प मिलेंगे जिनमें से आपको किसी एक का चुनाव करना है। Cell product, offer a service, other, not offering anything yet इन चारों ऑप्शन में से किसी एक को चुनना है और फिर next पर क्लिक करना है।

Step.5 अब आपको अगले पेज पर Paypal Dashboard ओपन होगा। इस प्रकार आने पर आपका Paypal अकाउंट सफलतापूर्वक बन जाएगा। इसको वेरीफाई करने के लिए आपको कुछ बातों का ध्यान रखना है चलिए अगली स्टेप में जानते हैं।

Step.6 Paypal अकाउंट को वेरीफाई करने के लिए आपको सर्वप्रथम ईमेल एड्रेस को कंफर्म करना होता है। Paypal Dashboard में आपको नीचे ईमेल आईडी कंफर्म करने का एक विकल्प मिलेगा। इस प्रोसेस को करने के बाद आपको एक ईमेल आएगा जिसमें आपको कंफर्म करना होता है। ऊपर बताई गई बातों को फॉलो करने के बाद आपको अब बैंक अकाउंट वेरीफाई करना होता है। इसके बारे में नीचे विस्तार से जानकारी बताई गई है।

 

PayPal में अकाउंट वेरीफाई कैसे करते हैं?

दोस्तों यहां पर आपको अकाउंट और डेबिट कार्ड दोनों को ऐड करने की सुविधा मिलती है। चलिए दोस्तों निम्न माध्यम से ओर जानते हैं-

• Paypal Dashboard में आपको ऊपर की साइड थ्री लाइन मेनू पर टैप करना है। फिर आपको Pay & Get paid ऑप्शन को चुनना है।

• अब आपको Bank accounts व Cards जैसे दो ऑप्शन मिलेंगे। जिनमें से आपको Link a new bank account पर क्लिक करना है।

• इतना सब करने के बाद आपको पहले IFSC Code, Account Number डालने के बाद Link Your Bank पर क्लिक करना है।

• अब आपको एक बात ध्यान देना है की Paypal आपके बैंक अकाउंट में पैसे सेंड करेगी यहां पर पैसे आपके बैंक अकाउंट में रिसीव हो जाते हैं तो आपका Paypal अकाउंट में बैंक अकाउंट वेरीफाई सिंपली हो गया है।

 

Paypal में अपना Paypal.Me लिंक कैसे बनाएं?

यहां एक ऐसी लिंक है जिसके जरिए पेमेंट की प्रोसेस में आसानी होती है। मतलब यहां बिल्कुल यूपीआई आईडी की तरह ही होती है बस इसको Paypal.Me लिंक कहा जाता है।

• Paypal Dashboard में आपको नीचे जाना होगा जहां पर आपको एक Create your unique Paypal.Me Link मिलेगा इस पर आपको क्लिक करना है और फिर Create Paypal.Me Profile पर क्लिक करना होगा।

• अब आपको अपने एक ID क्रिएट करनी होती है आप यहां पर अपनी इमेज भी ऐड कर सकते हैं।

• इसके उपरांत आपको Next बटन पर क्लिक करना है। इन कुछ आसान स्टेप के द्वारा आपकी प्रोफाइल और लिंक दोनों कंप्लीट हो जाएंगे।

 

PayPal के फायदे क्या है?

• PayPal के माध्यम से पेमेंट करने पर बहुत ही कम फीस देनी पड़ती है। आप देश विदेश में आराम से इसके द्वारा पेमेंट सेंड और रिसीव कर सकते।

• PayPal बहुत ही विश्वसनीय योग्य है इसके माध्यम से पेमेंट सेंड और रिसीव करना बिल्कुल 100% सुरक्षित होता है।

• ऑनलाइन शॉपिंग में भी आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

• अगर किसी व्यक्ति के द्वारा गलत पेमेंट या उसके साथ फ्रॉड हो जाता है तो उसकी कंप्लेंट भी की जा सकती है जिसमें आपको PayPal की तरफ से पूरा सपोर्ट मिलता है।

• इसमें आपको क्रेडिट कार्ड एवं डेबिट कार्ड दोनों विकल्प यूज करने को मिलते हैं।

• इसमें यूजर को कई बार अच्छे ऑफर्स भी दिए जाते हैं।

 

PayPal के नुकसान क्या-क्या है?

• PayPal में पेमेंट में कुछ फीस तथा कुछ मेंटेनेंस के लिए भी चार्ज देना होता है।

• जब कोई व्यक्ति आपके PayPal अकाउंट की कंप्लेंट करता है तो इसमें PayPal आपके अकाउंट को Freezer कर सकता है।

• Freeze अकाउंट को पुनः ठीक करवाने के लिए आपको कई समय के लिए इंतजार भी करना पड़ सकता है।

➤ यहां भी जानें- CRM क्या है? कैसे काम करता है इसके प्रकार और फायदे बताये।

 

सारांश-

दोस्तों इस आर्टिकल की मदद से आप जान गए होंगे कि PayPal कितना महत्व रखता है।
आशा करता हूं कि आपको सभी जानकारी पसंद जरूर आई होगी। इन सभी जानकारियों को अपने Friends, Family के साथ जरूर शेयर करें और आपका अगर कोई सा भी कन्फ्यूजन हो तो Comment करके निसंकोच पूछ सकते हैं।
Thank you

 

कुछ FAQ-

Q.1 PayPal क्या है और इसका उपयोग कैसे किया जाता है?
Ans. PayPal एक ऐसी पॉपुलर अमेरिकन कंपनी है जो कि पूरे विश्व भर में एक ऑनलाइन पेटीएम सर्विस प्रोवाइड करती है। यहाँ बहुत ही विश्वसनीय योग्य है इसके माध्यम से पेमेंट सेंड और रिसीव करना बिल्कुल 100% सुरक्षित होता है।

Q.2 PayPal के नुकसान क्या है?
Ans. PayPal के कुछ नुकसान जैसे- • PayPal में पेमेंट में कुछ फीस तथा कुछ मेंटेनेंस के लिए भी चार्ज देना होता है।
• जब कोई व्यक्ति आपके PayPal अकाउंट की कंप्लेंट करता है तो इसमें PayPal आपके अकाउंट को Freezer कर सकता है।

Q.3 PayPal कैसे काम करता है?
Ans. PayPal बिजनेसमैन को इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से फंड ट्रांसफर तथा रिसीव करने की सर्विस देता है। यहां बहुत ही सुरक्षित तरीका है खासकर व्यापारियों के लिए व्यापारी पूरे विश्व में किसी भी जगह पैसे को आराम से ट्रांजेक्शन कर सकते हैं।

Advertisement

Leave a Comment