Google Drive- इसके Features, उपयोग कैसे करें, ऑफलाइन उपयोग कैसे करें, फायदे व नुकसान बताईये? हिंदी में-

आज के लेख में हम Google Drive के बारे में चर्चा करेंगे वैसे दोस्तों आपने इसका नाम तो जरुर सुना होगा लेकिन इसकी विशेषताओं के बारे में शायद आपको मालूम नहीं होगा। यह बहुत ही प्रसिद्ध एप्लीकेशन है। इसके द्वारा असंभव कार्य भी संभव हो सकते हैं इसकी कई सारी विशेषताएं है जिनके बारे में लोगों को विस्तार से जानकारी नहीं है। पहले हम Google Drive क्या है इसके बारे में जानेंगे फिर इसके प्रमुख फीचर्स के बारे में बात करेंगे चलिए बिना देर करें इस खास विषय के बारे में आसान शब्दों में जानते हैं। 

Advertisement

 

Google Drive क्या है?

Google Drive गूगल का एक प्रोडक्ट है और यहां यूजर्स को क्लाउड स्टोरेज सर्विस प्रोवाइड करती है। मतलब इसके द्वारा यूजर अपने डिवाइस में जितने भी डॉक्यूमेंट, फोटो, वीडियो, फाइल्स, ऑडियो इत्यादि डाटा को सुरक्षित रूप से सेव करके रख सकते हैं। इसकी कई सारी विशेषताएं होती है और यहां यूज करने में भी बहुत सिंपल है। कोई भी न्यू पर्सन इसके द्वारा बड़ी ही सरलता से फाइल्स को ऑनलाइन स्टोर और एक्सेस कर सकता है। इसको 24 अप्रैल सन 2012 में लॉन्च किया था। यहां किसी भी टाइप की डिजिटल फाइल या फोल्डर को ऑनलाइन सेव, एक्सेस साथ में शेयर करने की भी सर्विस प्रोवाइड करती है इतना ही नहीं आप इमरजेंसी टाइम पर बैकअप भी आराम से ले सकते हैं। इतना ही नहीं आप किसी दूसरे डिवाइस (Tablet, Laptop, Computer etc.) में भी उस डाटा को एक्सेस कर सकते हैं। इसकी अपलोडिंग और डाउनलोडिंग स्पीड भी बहुत तेज होती है। कुल मिलाकर गूगल ड्राइव मुख्य रूप से फाइल स्टोरेज सर्विस होती हैं। जो गूगल द्वारा बिल्कुल फ्री सर्विस होती है और इसमें यूजर्स अपने डेटा को क्लाउड में सेव कर सकता है। बता दे कि इसमें यूजर्स को 15 GB फ्री स्टोरेज प्राप्त होता है। बस यूजर्स को इसमें अकाउंट बनाने की जरूरत होती है और फ्री यूज कर सकता है। 

 

Google Drive के Features कौन-कौन से है? 

गूगल ड्राइव कई सारे फीचर्स के लिए जाना जाता है इसमें यूजर्स को बहुत से फीचर्स मिलते हैं। जिनकी मदद से कई सारे कार्य आसानी से कंप्लीट हो जाते हैं चलिए जिनके बारे में निम्नलिखित माध्यम से विस्तार से जानते हैं- 

1. गूगल ड्राइव फ्री क्लाउड स्टोरेज की सर्विस प्रदान करता है। 
2. गूगल ड्राइव में डाटा शेयरिंग की फैसिलिटी भी अवेलेबल होती है। 
3. गूगल ड्राइव को ऑफलाइन भी यूज किया जा सकता है। 
4. गूगल ड्राइव से किसी भी डिवाइस में आसानी से डाटा को एक्सेस किया जा सकता है। 
5. गूगल ड्राइव डाटा का बैकअप लेने में बहुत ही मददगार होता है। 
6. इसमें हर एक यूजर को 15gb का डाटा स्टोर मुक्त मिलता है अगर यूजर को और भी स्टोरेज बढ़ाना है तो इसके लिए अलग से स्टोरेज परचेज करना होगा। 
7. गूगल ड्राइव में डॉक्यूमेंट एडिट करने की भी सुविधा मिलती है। 
8. इसमें डॉक्यूमेंट स्कैन करने का ऑप्शन भी मिलता है। 
9. इसमें थर्ड पार्टी ऐप को ऐड करना भी बड़ा सिंपल होता है जैसे G Suite और बहुत सारे ऐप्स जिनको आप मुफ्त में यूज कर सकते हैं। 
10. गूगल ड्राइव में जितना भी डाटा होता है उसको आप सर्च व फाइल हिस्ट्री भी चेक कर सकते हैं। 

 

Google Drive का उपयोग कैसे कर सकते हैं?

दोस्तों आप भी गूगल ड्राइव का यूज करना चाहते हैं तो यहां बहुत ही सिंपल है इसके लिए नीचे कुछ सिंपल से स्टेप्स दी गई है जिनको अवश्य फॉलो करें आप आराम से सीख जाएंगे। चलिए दोस्तों निम्नलिखित माध्यम से जानते हैं- 

Google Drive वेबसाइट के रूप में- दोस्तों आप गूगल ड्राइव वेबसाइट में यूज करना चाहते हैं मतलब इसको मोबाइल, कंप्यूटर या लैपटॉप में वेबसाइट रूप में इस्तेमाल करना चाहते हैं तो इसके लिए नीचे स्टेप दी गई है। जिन्हें ध्यान पूर्वक फॉलो करें। 

 Step 1. सर्वप्रथम आपको दोस्तों गूगल ड्राइव की वेबसाइट पर विजिट करना होगा https://drive.google.com आप इस लिंक से गूगल ड्राइव के होम पेज को ओपन कर सकते हैं। 

Step 2. अब आपको दो टाइप के ऑप्शंस मिलेंगे। जिनमें से पहला वाला पर्सनल और दूसरा वाला बिजनेस इनमें से आप अपनी इच्छा से चुन सकते हैं फिर आपको लॉगिन करना होगा। 

Step 3. दोस्तों यहां पर ध्यान दे कि आपको लॉगिन अपने गूगल अकाउंट से ही करना है। जिससे आपको कभी भी फ्यूचर में कोई प्रॉब्लम का सामना नहीं करना पड़े। 

Step 4. इतना सब करने के बाद दोस्तों आपको Account Dashboard देखने को मिलेगा जहां पर आपको लेफ्ट साइड में अपने डेटा को सुरक्षित रखने के लिए “New” वाले ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। जिसके द्वारा आप अपने डेटा को गूगल ड्राइव पर अपलोड कर सकते हैं। 

Step 5. आपको दो ऑप्शन मिलेंगे • File Upload •Folder Upload यहां आप अपनी इच्छा से किसी भी एक विकल्प को चुन सकते हैं और फिर सिंपली अपलोड कर सकते हैं। 

Google Drive एप्लीकेशन के रूप में- दोस्तों गूगल ड्राइव को आप एप्लीकेशन के रूप में यूज करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको नीचे दी गई स्टेप को फॉलो करना होगा।

Step 1. सर्वप्रथम आपको अपने मोबाइल में प्ले स्टोर से गूगल ड्राइव को डाउनलोड करना है। अब आपको गूगल अकाउंट से गूगल ड्राइव को लॉगिन करना होगा। 

Step 2. लोगिन करने के बाद एक नया पेज ओपन होगा जिसमें आपको नीचे राइट साइड में + वाला ऑप्शन मिलेगा तब उसे पर क्लिक कर दीजिए। 

Step 3. इतनी प्रोसेस कंप्लीट करने के बाद आपको कई सारे ऑप्शंस मिल जाएंगे जिसमें से आपको upload वाले विकल्प को चुनना होगा। 

Step 4. अपलोड वाले विकल्प पर क्लिक करने के बाद आप आसानी से डाटा को गूगल ड्राइव पर सिंपली अपलोड कर सकते हैं। 

 

Google Drive को ऑफलाइन कैसे यूज करें?

गूगल ड्राइव का ऑफलाइन यूज मतलब जब आप अपने किसी भी डाटा को गूगल ड्राइव पर अपलोड कर देंगे तब आप उसको ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीके से देख पाएंगे। यानी कि बिना इंटरनेट के भी आप डाटा को ओपन कर सकेंगे। नीचे कुछ सिंपल से स्टेप दी गई है चलिए जानते हैं-

Step 1. दोस्तों आपको पहले गूगल ड्राइव को ओपन करना है। आपको गूगल ड्राइव में एक नीचे “Files” का ऑप्शन मिलेगा उस पर क्लिक कर दीजिए। 

Step 2. इसके बाद आपकी जितनी भी फाइल गूगल ड्राइव में है वह सब ओपन हो जाएगी। आपको प्रत्येक फाइल पर 3 डॉट दिखाई देंगे उस पर क्लिक करें। 

Step 3. क्लिक करने के बाद menu ओपन हो जाएगा यहां आपको चौथे नंबर पर “make available offline” जैसा विकल्प मिलेगा उस पर क्लिक कर दीजिए।    

Step 4. उस बटन पर क्लिक करने के बाद आपके फाइल ऑफलाइन मोड में आ जाएगी। अब आपको अगर ऑफलाइन मोड में फाइल को ओपन करना है तो इसके लिए आपको तीन लाइन मिलेंगी जिन पर क्लिक करना होगा।

Step 5. अब बहुत सारे ऑप्शंस आ जाएंगे जिसमें से दूसरे नंबर पर आपको ऑफलाइन का विकल्प दिखेगा उस पर क्लिक करके आप सिंपली अपनी फाइल को ऑफलाइन भी पा सकते हैं। 

इन कुछ स्टेप के द्वारा आप गूगल ड्राइव में अपनी फाइल को ऑफलाइन भी देख सकते हैं। 

 

Google Drive के उपयोग से क्या-क्या फायदे होते हैं?

• गूगल ड्राइव एक तरह से मल्टी डिवाइस की सुविधा प्रदान करता है। मतलब आप इसको किसी भी डिवाइस में गूगल अकाउंट के द्वारा यूज कर सकते हैं। 
• गूगल ड्राइव को कोई भी न्यू पर्सन सिंपली यूज कर सकता है। 
• गूगल ड्राइव में फाइल को एडिट करने की भी सुविधा मौजूद हैं। 
• गूगल ड्राइव शेयरिंग की फैसिलिटी भी प्रोवाइड करता है। 
• गूगल ड्राइव में प्रत्येक यूजर्स के लिए प्राइवेसी जैसी फैसिलिटी अवेलेबल होती है। 
• गूगल ड्राइव की मदद से आप कभी भी डेटा का बैकअप बड़ी ही सरलता से ले सकते हैं। 

 

Google Drive के नुकसान क्या है?

• गूगल ड्राइव में खासकर इंटरनेट कनेक्शन की जरूरत होती है अगर आपके पास इंटरनेट नहीं है तो आप इसका यूज नहीं कर सकते।
• गूगल ड्राइव में केवल एक दिन में 5 TB डाटा को ही स्टोर किया जा सकता है इससे ज्यादा लगभग नामुमकिन है। 
• गूगल ड्राइव में मात्र 100 मेगावाट में प्रेजेंटेशन को ही अपलोड कर सकते हैं। 

➤यहां भी जानें- Corel draw क्या है और इसके उपयोग, टूल्स, लाभ व नुकसान बताएं ? हिंदी में-

 

हमने क्या सीखा?

आज हमने इस लेख में सीखा कि Google Drive क्या है? आशा करता हूं कि यह लेख आपके लिए उपयोगी साबित हुआ है यदि आपका कोई सा भी प्रश्न है तो आप कमेंट करके पूछ सकते है। साथ में इस लेख को सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों और फैमिली के साथ शेयर जरुर करे।
“Thanks”

 

कुछ FAQ-

Q.1 Google Drive क्या है?

Ans. Google Drive गूगल का एक प्रोडक्ट है और यहां यूजर्स को क्लाउड स्टोरेज सर्विस प्रोवाइड करती है। मतलब इसके द्वारा यूजर अपने डिवाइस में जितने भी डॉक्यूमेंट, फोटो, वीडियो, फाइल्स, ऑडियो इत्यादि डाटा को सुरक्षित रूप से सेव करके रख सकते हैं।

Q.2 Google Drive का क्या उपयोग है? in hindi

Ans. Google Drive किसी भी टाइप की डिजिटल फाइल या फोल्डर को ऑनलाइन सेव, एक्सेस साथ में शेयर करने की भी सर्विस प्रोवाइड करती है इतना ही नहीं आप इमरजेंसी टाइम पर बैकअप भी आराम से ले सकते हैं। इतना ही नहीं आप किसी दूसरे डिवाइस (Tablet, Laptop, Computer etc.) में भी उस डाटा को एक्सेस कर सकते हैं। 

Advertisement

Leave a Comment