घंटे का वजन करीबन 21 किलो-

22 जनवरी यानी की रामलाल की प्राण प्रतिष्ठा से पहले बताया जा रहा की मंदिर में लगने वाले घंटे का वजन लगभग 21 किलो है। दोस्तों आपके मन में अब प्रश्न जरूर आया होगा कि मंदिर के घंटे का वजन इतना कैसे है तो चलिए इसके बारे में हम बात करते हैं-

Advertisement

 

घंटे का वजन करीबन 21 किलो-

बताया जा रहा है कि घंटे का वजन करीबन 21 किलो है। जनकपुर भगवान श्री राम जी की ससुराल से तरह-तरह के मेवा एवं फल लाये जा रहे हैं। सुनने में यहां आ रहा है की देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी पर्दा हटाएंगे एवं शिशा भी दिखाएंगे। अयोध्या में 22 जनवरी को भगवान श्री राम जी बाल रूप में विराजमान होंगे माता जानकी उनके साथ नहीं होगी।

दोस्तों एक और गुड न्यूज़ यहां है कि अब भगवान श्री राम के ससुराल यानी कि जनकपुर जाना बहुत ही आसान हो चुका है। 30 दिसंबर से कई सारी ट्रेन चालू हो चुकी है। जिनके माध्यम से आप डायरेक्ट ही सीता जी के जन्मस्थल जनकपुर पहुंच जाएंगे आप आराम से इस यात्रा का आनंद ले सकते हैं। 22 जनवरी को प्राण प्रतिष्ठा में राहुल गांधी, सोनिया गांधी, अखिलेश यादव संग डिंपल यादव इन सबको निमंत्रण भेजा गया है इतना ही नहीं अंबानी जी भी अपनी पत्नी के साथ आएंगे। अडानी जी भी अपने पत्नी के साथ अयोध्या में पधारेंगे।

 

Advertisement

Leave a Comment