Makar Sankranti 2024: किस दिन है मकर संक्रांति, शुभ मुहूर्त,पूजा विधि क्या है?

हेलो फ्रेंड्स बहुत लोगों के मन में एक ऐसा कंफ्यूजन है कि मकर संक्रांति किस दिन मनाया जाए तो दोस्तों आपको बता दे की वर्ष 2024 में कुछ लोगों के मन में ऐसी उलझने है कि मकर संक्रांति 14 तारीख को है या 15 तारीख को यहां बहुत से लोगों के मन में कंफ्यूजन है हम इसके बारे में इस आर्टिकल में तो जानेंगे साथ में यह भी जानेंगे की शुभ मुहूर्त कौन सा है दान, पुण्य, स्नान, पूजा पाठ के लिए शुभ मुहूर्त सभी जानकारी को इस आर्टिकल की मदद से जानेंगे।

Advertisement

 

2024 में किस दिन है मकर संक्रांति?

भारत देश में मनाए जाने वाले मकर संक्रांति के त्यौहार के बारे में लोगों के मन में उलझने चल रही है। कई लोगों के अनुसार मकर संक्रांति 14 तारीख को है तो कुछ लोगों के अनुसार 15 को मनाई जाएगी लेकिन वास्तव में सच तो यही है कि दोस्तों मकर संक्रांति 15 तारीख को मनाई जाएगी ज्योतिष वेद एवं पंचांग के अनुसार मकर संक्रांति का पर्व 15 जनवरी को मनाया जाएगा इस दिन सूर्य भगवान प्रथम 2:54 पर धनु राशि से निकलकर मकर राशि में प्रवेश करेंगे।

2024 में किस दिन है मकर संक्रांति?

क्या है शुभ मुहूर्त?

शुभ मुहूर्त की बात करें तो इस दिन मकर संक्रांति पुण्य काल प्रातः 7:15 से शाम 6:21 तक ठहरेगा। वही हम अगर दूसरी ओर मकर संक्रांति महा पुण्य काल की बात करें तो वहां प्रातः 7:15 से लेकर प्रातः 9:06 तक रहेगा।

 

पूजा विधि क्या है?

मकर संक्रांति 15 जनवरी को मनाई जाएगी तो इसकी हम पूजा विधि जाने तो इस दिन सभी भक्त विधि पूर्वक पूजा पाठ करते हैं। पूजा विधि की बात करें तो सबसे पहले प्रातः काल उठकर घर की साफ सफाई कीजिए अगर आपके आसपास पवित्र नदी है तो उसमें स्नान कीजिए नहीं भी है तो आप घर में ही रहकर गंगाजल मिलाकर स्नान कर सकते हैं। इसके पश्चात आपको आचमन करके खुद को शुद्ध कर लेना है। मकर संक्रांति के दिन पीले रंग के वस्त्र को धारण करना बहुत ही लाभकारी होता है। इसके पश्चात आप सूर्य चालीसा का पाठ कर सकते हैं। साथ में सूर्य देव को एक लोटा जल अर्पण कर सकते हैं। अंत में आपको आरती करना है फिर दान धर्म पुण्य का लाभ भी उठाना है। इस दिन दान को बड़ा ही महत्व दिया जाता है दान करने से कई तरह के पाप नष्ट हो जाते हैं। कई तरह के महा पापों से छुटकारा मिल जाता है। इस दिन आप गरीबों में कंबल का दान कर सकते हैं। ऊनी वस्त्रों को दान कर सकते हैं। आप विशेष गुड और तिल का भी दान कर सकते हैं। मतलब दोस्तों आपको अपनी आर्थिक स्थिति को देखकर दान पुण्य धर्म इस दिन करना है यहां दिन बहुत ही शुभ होता है।

Advertisement

Leave a Comment