ISRO Pushpak Viman 2024: इसरो का पुष्पक विमान भारत के लिए बड़ी सफलता, फिर से बाजी मारी। जाने पूरी कहानी

ISRO Pushpak Viman 2024: इसरो जिसके तारीफ शब्दों से बया करना बहुत ही मुश्किल है क्योंकि दोस्तों आज हम जान चुके हैं कि भारत ने चांद को छू लिया है। चंद्रयान-3 की सफलता के बाद इसरो का आत्मविश्वास और भी बड़ा। इसरो ने 22 मार्च को सफलतापूर्वक “पुष्पक विमान” को लैंड कराया। इसको लैंड कराके इसरो ने फिर से एक बार इतिहास में
रचा नाम।

 

इसरो का पुष्पक विमान – भारत के लिए बड़ी सफलता

बता दे कि यहां पुष्पक विमान एसयूवी के साइज के पंखों वाले रॉकेट के समान है। जिसको ‘Indigenous Space Shuttle’ (‘स्वदेशी स्पेस शटल’) नाम से भी जाना जा रहा है। इस मिशन को भारत की सबसे बड़ी सफलता कह सकते हैं। पुष्पक विमान के टेस्ट को कर्नाटक के चित्रदुर्ग में सफलतापूर्वक किया। इसका पुष्पक विमान नाम धार्मिक महत्व के अनुसार जाने तो रामायण से उठाया गया है क्योंकि रावण के पास जो विमान था उसका नाम भी पुष्पक विमान था। पर यहां एक बात और छिपी हुई रहती है रावण के पास जो पुष्पक विमान था वहां उसका नहीं था बल्कि उसने अपने भाई कुबेर से छीन लिया था। यहां भी माना जा रहा है कि उस समय के हिसाब से इस पुष्पक विमान में आज की संपूर्ण टेक्नोलॉजी की तरह कई सारी विशेषताएं मौजूद थी। इसी वजह से आदिकाल का पहला आधुनिक विमान “पुष्पक विमान” को कहा जाता है। रामायण के ऐसे युग में जो रावण के पास पुष्पक विमान था उसकी चर्चाएं धरती, पाताल से लेकर तीनों लोकों में फैली हुई थी। 

Leave a Comment